• Sun. Apr 21st, 2024

धर्मनगरी को ड्रग फ्री बनाने को श्रीमहंत रविन्द्र पुरी महाराज के सानिध्य में शुरू हुआ अभियान

ByAdmin

Jul 28, 2023


उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के विजन ” ड्रग्स फ्री देवभूमि” नशा मुक्ति अभियान में एक कदम से कदम मिलाते हुए , अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद अध्यक्ष एवं माँ मनसा देवी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष श्रीमहंत रविन्द्र पूरी की अध्यक्षता में एक बैठक आयोजित हुई। बैठक का संचालन महावीर नेगी द्वारा किया गया। जिसमें समाज के विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े गणमान्य लोगो ने भाग लिया जिसमे मुख्य रूप से 40वी वाहिनी पीएसी के डिप्टी कमाण्डेन्ट सुरजीत सिंह पंवार, इंटेलिजेंस के एएसपी जे0आर0 जोशी, श्रीगंगा सभा हरिद्वार के अध्यक्ष नितिन गौतम, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के क्षेत्रीय प्रचारक पदम जी सहित उड़ान क्लास के रविन्द्र शर्मा और युवा जाग्रति विचार मंच के मनीष चौहान ने प्रतिभाग किया। बैठक में निर्णय लिया गया कि समाज के सभी वर्गों को इस मुहिम में जोड़ते , नशे से पीड़ित युवाओं को गोद लेने की अपील की जाएगी जिसकी पहल करते हुए श्रीमहंत रविन्द्र पूरी द्वारा नशे से पीड़ित 21 युवाओं को गोद लेने की बात कही ।


शुक्रवार को माँ मनसा देवी चरण पादुका मंदिर परिसर में आयोजित हुई बैठक में बोलते हुए 40 वी वाहिनी पीएसी के डिप्टी कमांडेंट सुरजीत सिंह पवार ने कहां की आज प्रदेश भर मैं नशा एक बड़ी समस्या बन गया है युवाओं को नशा मुक्ति केंद्र भेजने से पहले सबसे पहले हमें किसी उचित नशा मुक्ति केंद्र तलाशना होगा जो हमारे नजदीक ही स्थित हो। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इस समस्या के लिए युवाओं में जन जागरण ही चलाना होगा। बैठक में इंटेलिजेंस में एएसपी जे0आर0 जोशी ने कहा कि जो व्यक्ति नशे से पीड़ित है वह अपराधी से ज्यादा बीमार है, इस समस्या से निपटने के लिए सभी को साथ मिलकर कार्य करना होगा। उन्होंने कहा कि नशे से पीड़ित व्यक्ति को नशा मुक्ति केंद्र भेजने के साथ साथ नशे की बिक्री पर भी लगानी होगी। उन्होंने चिंता जताते हुए कहा कि आज कई बड़े स्कूल में देखा गया है कि स्कूल के छात्र नशे के आदि हो गए है। वही इस बैठक में बोलते हुए उड़ान क्लास के रविन्द्र शर्मा ने कहा कि आज नशा धर्मनगरी की मुख्य बड़ी समस्या बनता जा रहा है उन्होंने श्रीमहंत रविन्द्र पूरी द्वारा नशे के खिलाफ मुहिम चलाने का स्वागत करते हुए कहा कि नशा आज बहूत बड़ा व्यापार बन गया है जिससे निदान के लिए हमें स्कूलों में बच्चों के बीच जाकर काउंसलिंग करनी होंगी। उन्होंने कहा कि भविष्य में हम को भी एक अच्छा नशा मुक्ति केंद्र जरूर बनाना चाहिए। बैठक में बोलते हुए श्रीगंगा सभा हरिद्वार के अध्यक्ष नितिन गौतम ने कहा कि नशा आज लोंग टर्म कोरोना बन चुका है जिसके लिए लगातार चलने वाले जागरूकता कार्यक्रम के साथ साथ सख्त कानून भी बनना चाहिए। वही बैठक में बोलते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के क्षेत्र प्रचारक पदम जी ने जब नशे की विकृति बहूत बड़ी हो जाती है तो सभी को साथ मिलकर कार्य करना होगा। उन्होंने कहा कि शहर के प्रमुख लोगों से अपील की जाएगी कि वे नशे के खिलाफ इस मुहिम से जरूर जुड़े।


बैठक के अंत मे बोलते हुए श्रीमहंत रविन्द्र पूरी ने कहा कि आज की बहूत बड़ी जरूरत है कि हम सब मिलकर नशे के खिलाफ एक साथ कार्य करें, उन्होंने कहा कि इस मुहिम में एक कदम बढ़ते हुए उनके द्वारा 21 नशे से पीड़ित लोगों गोद लेकर नशा मुक्ति केंद्र भेजा जाएगा। जिससे वे लोग नशे से मुक्त होकर समाज से अपनी भागीदारी दे सके।

बैठक में जूना अखाड़ा के महामंडलेश्वर गर्व गिरि महाराज, आरएसएस क्षेत्रीय प्रचार प्रमुख पदम सिंह, उप सेनानायक सुरजीत सिंह पंवार, इंटेलिजेंस एसपी जे आर जोशी श्रीगंगा सभा अध्यक्ष नितिन गौतम,उड़ान इंस्टीट्यूट एमडी रविंद्र शर्मा, गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय के छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष मनीष चौहान आदि शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *