• Sun. Apr 21st, 2024

mahapanchayat uttrakhand आखाडा परिषद के अध्यक्ष श्री महंत रविंद्रपुरी ने की स्वामी दर्शन भारती को जान से मारने की धमकी दिये जाने की निंदा

ByAdmin

Jun 15, 2023
mahapanchayat uttrakhand

जान से मारने की धमकी

mahapanchayat uttrakhand  उत्तरकाशी के पुरोला में महापंचायत का समर्थन कर रहे देवभूमि रक्षा आभियान संस्थापक और निरंजनी अखाड़े के महंत दर्शन भारती को जान से मारने की धमकी मिली है। जिसकी अखाडा परिषद ने घोर निंदा की है। अखिल भारतीय अखाडा परिषद एवं मां मनसा देवी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष श्रीमहंत रविन्द्र पुरी महाराज ने कहा कि महंत दर्शन भारती को जान से मारने धमकी मिली है और उनका सिर कलम करने वाले को पांच करोड़ रूपए का इनाम देने की घोषणा की गयी है।

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद इसकी घोर निंदा करते है। उनकी मांग है कि जिसने भी यह पत्र लिखा है उसकी जांच होनी चाहिए और इस पर सख्त से सख्त कार्यवाही होनी चाहिए। श्री महंत रविंद्र पुरी महाराज ने धामी सरकार द्वारा देवभूमि उत्तराखंड में लव जिहाद, लैंड जिहाद के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान का समर्थन किया है। mahapanchayat uttrakhand

यह भी पढ़े: डॉक्टर विशाल गर्ग बने कार्यकारी अध्यक्ष एवं सदस्यता प्रमुख और सुधांशु वत्स महामंत्री

उन्होंने कहा कि देवभूमि को साजिश का शिकार बनाने वाले राक्षसों को बाहर किया जाए। उन्होंने कहा कि ओवैसी जैसे लोग महापंचायत रोकने के लिए बयान बाजी करते है। देवभूमि के सन्तो के सिर कलम करने की धमकी दी जाती है। उन्होंने चेतावनी दी है कि जिहादी चाहे कितनी भी कोशिश कर ले लेकिन जागृत हिन्दू समाज अब डरने वाला नही है। mahapanchayat uttrakhand

धमकी निंदनीय

स्वामी दर्शन भारती को मिली धमकी के बाद संत समाज भी काफी आक्रोशित नजर आ रहा है। किसी भी व्यक्ति को खुलेआम धमकी देना यह निंदनीय है इस तरह के जिहादी प्रवृत्ति के लोगों पर सरकार को जल्द से जल्द सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सन्त समाज हमेशा ही जिहादियों से युद्ध करता रहा है। जिहादियों ने जितने भी सर कलम किए उसके बावजूद भी संत समाज कभी झुका नहीं। mahapanchayat uttrakhand

महंत दर्शन भारती ने उत्तराखंड और सनातन संस्कृति बचाने के लिए अपना जीवन समर्पित किया है। उन्होंने कहा कि ओवैसी जैसे लोगों की बातों पर ध्यान नहीं देना चाहिए यह दोगली राजनीति करते हैं हमारा संत समाज एकजुट है हमारी नैतिक जिम्मेदारी बनती है देव भूमि की रक्षा के लिए हमें आगे आना होगा। mahapanchayat uttrakhand

mahapanchayat uttrakhand

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *